धोनी को बैट पर स्टीकर लगाने के इतने पैसे मिलते हैं

ये खिलाड़ी अपने बल्ले पर स्टीकर लगाने के लिए लेते हैं उतने पैसे

क्रिकेट का खेल आज भी पूरी दुनिया में लोकप्रिय है और आज भी इस खेल से प्यार करने वालों की लम्बी तादाद है।

आपको यह बात भी पता होगा कि खास कर के भारतीय खिलाड़ियों के इस खेल के लिए भारी रकम मिलती है। साथ ही साथ लोकप्रियता भी इन खिलाड़ियों की सबसे ज़्यादा है।

इन्हें हर चीज़ के लिए पैसे मिलते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि इन खिलाड़ियों को अपने बैट पर लगाए गए स्टिकर के लिए भी मोटी रकम मिलती है।

तो आइए आपको बताता हूँ कि कौन से खिलाड़ी किस स्टिकर को चिपकाने के लिए कितने पैसे लेता है? और बड़ी-बड़ी कंपनियां इनसे कितने में डील करती हैं? टाइम्स ऑफ इंडिया के एक छपी हुई रिपोर्ट के मुताबिक ये खिलाड़ी स्टिकर लगाने के इतनी रकम लेते हैं।

विराट कोहली

जैसा कि आपने देखा होगा कि भारतीय टीम के कप्तान और बेहतरीन प्लेयर विराट कोहली अपने बात पर MRF ब्रांड को यूज करते हैं। लेकिन आपको जान कर हैरानी होगी कि विराट कोहली MRF का स्टिकर अपने बैट पर लगाने के लिए इस कंपनी से हर साल 7-8 करोड़ रुपये का करार करते हैं।

महेंद्र सिंह धोनी

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी अपने बैट पर SPARTAN कंपनी का स्टिकर लगते हैं और इसके लिए SPARTAN कंपनी उन्हें साल का 6 करोड़  रुपये पे करती है।

सुरेश रैना

भारतीय टीम के शानदार खिलाड़ी सुरेश रैना अपने बैट पर CEAT COMPANY का स्टिकर लगाते हैं   और इसके लिए वो इस  कंपनी से 2.50 से 3 करोड़ का करार  करते हैैं।

शिखर धवन

भारतीय टीम के ओपनर खिलाड़ी शिखर धवन भी MRF का स्टिकर अपने बैट पर लगाते हैं और इसके लिए वो MRF से साल का 3 करोड़ का करार करते हैं।

रोहित शर्मा

: रोहित शर्मा भी अपने बल्ले पर CEAT कंपनी का स्टिकर लगाते हैं और इसके लिए साल का 3 करोड़ रुपये लेते हैं।

1 thought on “धोनी को बैट पर स्टीकर लगाने के इतने पैसे मिलते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *